1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. जानें जेल में क्या काम करेगा...

जानें जेल में क्या काम करेगा कैदी नंबर 8647 गुरमीत राम रहीम

Written by: India TV News Desk 29 Aug 2017, 9:35:11 IST
India TV News Desk

नई दिल्ली: रेप केस में 20 साल की सजा मिलने के बाद बाबा गुरमीत राम रहीम अब कैदी नंबर 8647 हो गया है। पहले राम रहीम को कैदी नंबर 1997 मिला था। सूत्रों के मुताबिक राम रहीम को रात के खाने में 4 सादी रोटियां और सब्जी दी गयी लेकिन उसने केवल आधी रोटी खायी। इसके अलावा राम रहीम पूरी रात बेचैन रहा और सुबह करीब साढ़े तीन बजे सोने के लिए गया। ये भी पढ़ें: EXCLUSIVE: गुरमीत राम रहीम के कुकर्मों की कहानी, उसके राजदार की जुबानी

हमेशा ऐशो आराम से रहने वाले राम रहीम को किसी भी तरह की वीआईपी सुविधा नहीं दी गई है। उसे जनरल वार्ड में रखा जायेगा। बाबा राम रहीम को जेल में काम भी करना पड़ेगा और खाने के लिए उसे एक थाली और गिलास, सोने के लिए एक दरी और कंबल और रोज मजदूरी के 20 रुपये मिलेंगे। राम रहीम को रात में क़ैदियों के कपड़े भी दिये गए। बताया जा रहा है कि राम रहीम को जेल में माली और वहां की फैक्ट्री में काम दिया गया है जहां काम करने के बदले उसे रोजाना 40 रुपये बतौर मेहनताना मिलेगा।

बाबा राम रहीम को सजा के बाद सिरसा में उसकी अरबों की संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। बता दें कि सोमवार को बाबा गुरमीत राम रहीम को 15 साल पुराने साध्वी रेप केस में 20 साल की सजा सुनाई गई थी। राम रहीम को बलात्कार के 2 मामलों में सजा मिली है। कोर्ट ने उस पर 30 लाख का जुर्माना भी लगाया है। दोनों पीड़ित साध्वियों को इस रकम में से 14-14 लाख मिलेंगे। रोहतक की सुनारिया जेल में सजा का ऐलान होने के साथ ही लाखों भक्तों की रहनुमाई करने वाला बाबा राम रहीम वहीं रोहतक जेल में ही फूट-फूटकर रोने लगा और जज से रहम की भीख मांगने लगा।

वहीं हरियाणा के राजस्व विभाग ने राम रहीम की और डेरा की अचल संपत्ति की पूरी लिस्ट बनाने का काम शुरू कर दिया है। इसी तरह उद्योग विभाग को भी डेरा कैंपस में चलने वाले उद्योग धंधों की सूची बना रहा है। डेरा परिसर में बने रिहायशी, कमर्शियल, शैक्षणिक संस्थानों, मल्टीप्लेक्स, अस्पतालों की कीमत का आकलन किया जा रहा है। राम रहीम और डेरा की पूरी प्रॉपर्टी का लेखा-जोखा तैयार कर रिपोर्ट डीसी को सौंपी जायेगी।