1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. गुरुग्राम: प्रद्युम्न मर्डर केस की सबसे...

गुरुग्राम: प्रद्युम्न मर्डर केस की सबसे बड़ी गवाही, 'कातिल' कंडक्टर के कबूलनामे का सच

Written by: India TV News Desk 12 Sep 2017, 10:42:20 IST
India TV News Desk

नई दिल्ली: गुरुग्राम के नामी स्कूल रयान इंटरनेशनल में पढ़ने वाले मासूम की हत्या के मामले में प्रद्युम्न की क्लास में ही पढ़ने वाले दो छात्र बतौर गवाह सामने आए हैं। हरियाणा पुलिस ने दो छात्रों को गवाह के तौर पर मजिस्ट्रेट के सामने पेश करके उनका बयान दर्ज कराया है। बताया जा रहा है कि दोनों बच्चों ने मजिस्ट्रेट के सामने दिए बयान में कहा है कि उन्होंने आरोपी कंडक्टर अशोक को स्कूल के बाथरूम में जाते हुए देखा था। ये भी पढ़ें: मुंबई: महिला ने एक साथ 4 बच्चों को दिया जन्म, शादी के 6 साल बाद बनी मां

ये दोनों बच्चे वारदात से कुछ ही समय पहले बाथरूम में अपनी कराटे की ड्रेस बदल रहे थे। जब ये बच्चे बाथरूम से निकल आए उसके बाद प्रद्युम्न की हत्या हुई। दोनों बच्चों का बयान धारा 164 के तहत मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज कराया गया है।

वहीं इंडिया टीवी संवाददाता कुमार कुंदन ने बस के ड्राइवर सौरभ राघव से बात की। अशोक और सौरभ दिन में करीब आठ घंटे एक साथ बस में रहते थे ऐसे में सौरभ अपने कंडक्टर को अच्छी तरह जानता है। यही वजह है कि जिस दिन से अशोक के कातिल होने की बात सामने आई है ड्राइवर सौरभ को इस पर भरोसा नहीं हो रहा है।

सौरभ का साफ कहना है कि ड्राइवर और कंडक्टर को स्कूल के अंदर जाने की इजाजत नहीं होती ऐसे में ये यकीन करना मुश्किल है कि वो खुद से स्कूल के अंदर गया होगा। सौरभ ने कहा कि बस के टूल बॉक्स में चाकू नहीं होता है।

बता दें कि 8 सितंबर को सुबह ही यह खबर आई थी कि प्रद्युम्न की हत्या कर दी गई है। इसके बाद जब बवाल मचा तो स्थानीय प्रशासन और मुख्यमंत्री दफ्तर तक सक्रिय हो गए। पुलिस ने सोमवार (11 सितंबर) को रायन ग्रुप के नॉर्दन जोन के प्रमुख फ्रांसिस थॉमस और भोंडसी की शाखा को-ऑर्डिनेटर जे ईथ को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने यह गिरफ्तारियां जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत की है। इसके साथ ही गुरुग्राम पुलिस कमिश्नर ने कहा कि सोहना रोड के सर्किल हेड ऑफिसर (एसएचओ) अरुण को सस्पेंड कर दिया था।