1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. बिहार: ताजिया जुलूस के दौरान भिड़े...

बिहार: ताजिया जुलूस के दौरान भिड़े दो गुट, 56 गिरफ्तार

IANS 13 Oct 2016, 21:20:41
IANS

भोजपुर/मधेपुरा: बिहार के भोजपुर जिले के पीरो और मधेपुरा जिला के बिहारीगंज में बुधवार को दो गुटों के बीच पत्थरबाजी के बाद गुरुवार को भी क्षेत्र में तनाव बना हुआ है। इस बीच दोनों जगहों से अब तक 56 कथित उपद्रवियों को गिरफ्तार किया गया है। राज्य के अपर पुलिस महानिदेशक सुनील कुमार ने गुरुवार को बताया कि मधेपुरा और भोजपुर में स्थिति सामान्य करने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि अब तक मधेपुरा में जहां 38 लोगों को गिरफ्तार किया गया है वहीं कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। भोजपुर के पीरो क्षेत्र से 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

देश-विदेश की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

मधेपुरा के बिहारीगंज में बुधवार को धार्मिक आयोजन के बीच दो पक्षों के बीच पत्थरबाजी हुई। इसके बाद पुलिस को भीड़ पर नियंत्रण पाने के लिए आंसूगैस के गोले छोड़ने पड़े। गुरुवार को एकबार फिर शांति समिति की बैठक के दौरान असामाजिक तत्वों ने पत्थरबाजी प्रारंभ कर दी और सड़क जामकर हंगामा करने लगे। इस दौरान कई दुकानों को नुकससान पहुंचाया गया। स्थिति को काबू करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसूगैस के गोले छोड़े। मधेपुरा के पुलिस अधीक्षक विकास कुमार ने बताया कि क्षेत्र में स्थिति सामान्य हो रही है। उल्लेखनीय है कि मधेपुरा के बिहारीगंज में धार्मिक कार्यक्रम के आयोजन के दौरान दो गुटों में भिड़ंत के बाद तनाव गहराया हुआ है। 

मंगलवार की रात दो गुटों में झड़प के बाद हुए विवाद के बाद बुधवार को भी दोनों पक्षों में जमकर पथराव और छुरेबाजी हुई, जिसमें कई लोग घायल हुए। स्थिति को काबू में करने के लिए पुलिस ने बुधवार को भी लगभग 10 राउंड आंसूगैस के गोले भी छोड़े थे। बिहारीगंज में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है तथा बड़े पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी कैंप कर रहे हैं। इधर, भोजपुर के पीरो में गुरुवार को एक बार फिर लोग सड़क पर उतर गए और हंगामा करने लगे। इस क्रम में लोगों ने एक बस में आग लगा दी और कई दुकानों में तोड़फोड़ की। 

पुलिस के अनुसार, बुधवार शाम दुसाधी बधार में ताजिया जुलूस के दौरान दो गुट आपस में भिड़ गए। इसके बाद दोनों ओर से जमकर पत्थरबाजी हुई। लोगों ने रात में भी छह वाहनों और तीन दुकानों को फूंक दिया था। कई दुकानों में तोड़फोड़ की गई थी। उपद्रवियों को रोकने के लिए पुलिस को गोली चलानी पड़ी, तब जाकर लोग शांत हुए थे। पत्थरबाजी में चार पुलिसकर्मियों को भी चोटें आई हैं। हालात बिगड़ते देख प्रशासन ने पूरे क्षेत्र में पुलिस की गश्ती बढ़ा दी और उपद्रवियों की धर पकड़ शुरू कर दी गई। गुरुवार की दोपहर तक करीब एक दर्जन लोगों को हिरासत में ले लिया गया था। पहचान में आए अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी हो रही है।

शाहाबाद प्रक्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक, भोजपुर के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक पीरो में डेरा डाले हुए हैं। भोजपुर के जिलाधिकारी वीरेंद्र प्रसाद यादव ने बताया कि क्षेत्र में स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है। अतिरिक्त पुलिस बल को बुला लिया गया है। उन्होंने लोगों से अफवाह पर ध्यान नहीं देने की अपील की है। तनाव के कारण पीरो में सभी दुकानें गुरुवार को बंद रहीं। जिला मुख्यालय और स्थानीय पुलिस की टीम गश्त कर रही है। वाहनों व दुकानों में आगजनी के बाद दोनों गुटों के बीच तनातनी है।