1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. Video: बैंड, बाजा और शगुन में...

Video: बैंड, बाजा और शगुन में चेक, मथुरा में हुई कैशलेस शादी

India TV News Desk 28 Nov 2016, 19:23:53
India TV News Desk

मथुरा: एक ओर जहां नोटबन्दी से देशभर के लोग लाइनों में लगे नजर आ रहे हैं वही दूसरी ओर यूपी के मथुरा में हुई कैशलेस शादी ने लोगो के सामने एक मिसाल पेश की है, इस शादी मे वो सब कुछ हुआ जो आमतौर पर शादियों में होता है, लेकिन कैश की जगह चेक से हुआ। दूल्हे का गिफ्ट हो या मेहमानों का शगुन या फिर कन्यादान हर जगह कैश की जगह चेक था। (देश-विदेश की बड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें)

नोटबंदी के दौर में मथुरा में हुई दो अनोखी शादियां

मथुरा में हुई दो शादियों में सबकुछ आम शादियों की तरह ही हुआ सिर्फ एक चीज़ को छोड़कर। शादियों में जहां पहले दूल्हे को गिफ्ट में कैश दिया जाता था, शगुन में कैश दिया जाता था, वहां इस शादी में सब कुछ चेक से हुआ। और ये सब हुआ प्रधानमंत्री की अपील के बाद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपील को स्वीकार करते हुए इन परिवारों ने ये फैसला किया कि ये अपने बच्चों की शादी कैशलेस करेंगे और जब एक बार फैसला हो गया तो अपने आप कैशलेस शादी का रास्ता बनता गया।

Also read:

बैंड...बाजा और शगुन में चेक

जब वर वधू पक्ष ने कैशलेस शादी करने का फैसला कर दिया तो शादी में शामिल होने आए मेहमानों ने भी भरपूर साथ दिया। किसी रिश्तेदार ने दुल्हन का गिफ्ट चेक से किया तो किसी ने शगुन भी चेक से ही दिया। देश के दूसरे परिवारों की तरह इस परिवार में भी नोटबंदी के ऐलान के बाद खलबली मच गई थी, किसी को कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि क्या किया जाए, फिर दोनों परिवार एक साथ बैठे और ये फैसला किया कि शादी पूरी तरह कैशलेस करेंगे।

देखिए वीडियो-

इन्होंने शादी का पूरा खर्च चाहे वो बैण्ड वाला हो या फिर हलवाई या फिर टैन्ट वाला, सबका भुगतान चैक से किया और लोगों ने चेक ले भी लिया। इस परिवार की इस पहले को देखते हुए शादी मे आए लोगो ने कन्यादान मे दिये जाने वाले उपहार की जगह वर वधू को चेक ही दिया। मथुरा के गणेश कौशिक के परिवार के साथ ही नंदगांव के रहने वाले तेजराम ने भी अपनी बेटी की शादी कैशलेस की। इस शादी मे भी दोनों परिवारों ने आपसी सहमति से दूल्हे को दिये जाने वाले उपहार और शगुन में नगद की जगह दो लाख इक्कीस हजार रुपये का चेक भेंट किया।

नोटबंदी के बाद देशभर के दूसरे परिवारों के साथ ही इन दो लोगों का परिवार भी मुश्किल में आ गया था, लेकिन वर और वधु पक्ष की समझदारी की वजह से सबकुछ ठीक ठाक हो गया और कोई मुश्किल भी नहीं आई।